April 20, 2018, 5:06 am
जिन हिरणों को सलमान ने मारा,ग्रामीणों ने उनका स्मारक बनवा दिया

जिन हिरणों को सलमान ने मारा,ग्रामीणों ने उनका स्मारक बनवा दिया

1998 में सलमान खान ने जिस कांकाणी गांव में दो कृष्ण मृगों की हत्या की थी, अब वहां पत्थर का एक स्मारक बना हुआ है। ये चबूतरा उन मृगों के प्रति विश्नोई समाज की आस्था की याद दिलाता है, साथ ही ये भी स्मरण करवाता है कि एक शक्तिशाली फ़िल्मी सितारे के सामने वन्य प्राणियों के लिए समर्पित इस समाज ने घुटने नहीं टेके। इस तपते मरुस्थल को विश्नोई समाज के लोगों का प्रेम सींचता है। राजस्थान के थार मरुस्थल में विश्नोई समाज के लोगों की बहुलता है। इस क्षेत्र के गांवों में जगह-जगह वन्य जीवों के लिए तालाबों का निर्माण करवाया गया है। शिकारी भी इस क्षेत्र में आने से डरते हैं क्योंकि विश्नोई समाज के लोग यहाँ प्रहरी की भूमिका निभाते हैं। जिस दिन सलमान खान को पांच साल की सजा सुनाई गई, कांकाणी में हर्ष का माहौल था। जोधपुर ज़िले के इसी कांकाणी गांव में 1998 में सलमान खान ने दो काले हिरणों का शिकार किया था। पिछले दो दशक से विश्नोई समाज सलमान खान जैसे सितारे से लड़ रहा है। इन लोगों के पास न पैसा है न प्रभाव जबकि सलमान पैसों और सरकार में अपनी पैठ के चलते बचते चले आ रहे थे। कांकाणी में जिस जगह पर सलमान खान ने हिरणों की बेरहमी से हत्या कर डाली थी, उस जगह पर उनका अंतिम संस्कार कर स्मारक बना दिया गया था। गांव के लोग हर दिन वहां पक्षियों के लिए दाना डालते हैं और आसपास स्वच्छंद विचरण करते हिरणों की रक्षा करते हैं। सलमान खान ने उन काले हिरणों का शिकार किया जो पहले ही अपने अस्तित्व पर संकट के ख़तरे से जूझ रहे हैं। इसी गांव के लोगों की गवाही पर सलमान खान को अदालत ने शिकार का दोषी करार दिया और सजा सुनाई। उस रात गन फायर की आवाज सुनने के बाद गांव के लोग हथियार लेकर घटनास्थल की ओर भागे थे लेकिन उनके पहुँचने तक शिकारी सलमान और उसके साथी भाग निकले थे।जो लोग बीस साल तक न्याय की आस में एक बड़े सितारे के खिलाफ लड़ाई लड़ते रहे, वे अब और उत्साह से आगे भी लड़ने वाले हैं। क़ानूनी भाषा में देखा जाए तो सलमान जमानत पर रिहा एक दोषी अपराधी है। उनके खिलाफ फैसला सुनाया जा चुका है। विश्नोई समाज ने आगे की लड़ाई के लिए कमर कस ली है और अब उन्हें पता चल गया है कि इस देश में एक फिल्म स्टार को कानून के जरिये सजा दिलवाई जा सकती है।