April 20, 2018, 4:43 am
शिवराज अपने कहे पर कायम, मध्यप्रदेश में रिलीज नहीं होगी पद्मावत

शिवराज अपने कहे पर कायम, मध्यप्रदेश में रिलीज नहीं होगी पद्मावत

भोपाल। संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत को भले ही सेंसर बोर्ड ने पास कर रिलीज डेट घोषित कर दी हो लेकिन मध्यप्रदेश में यह फिल्म प्रदर्शित नहीं हो सकेगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्पष्ट कर दिया है कि फिल्म पर लगा बैन जारी रहेगा। प्रदेश के राजपूत समाज ने मुख्यमंत्री के इस कदम का स्वागत किया है।

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गत नवंबर में फिल्म की रिलीज पर ये कहते हुए प्रतिबंध लगा दिया था कि “अगर राष्ट्रमाता पद्मावती के सम्मान के खिलाफ दृश्य दिखाए जाएंगे। तो इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। ऐसी फिल्म का मध्य प्रदेश की धरती पर प्रदर्शन नहीं होगा। इतिहास के साथ छेड़छाड़ यह देश बर्दाश्त नहीं करेगा।” मुख्यमंत्री ने राजपूत समाज को भरोसा दिलाया कि फिल्म भले ही रिलीज हो जाए, मगर मध्य प्रदेश में वह बैन ही रहेगी, यहां किसी भी स्थिति में फिल्म का प्रदर्शन नहीं होने दिया जाएगा। फिल्म के सेंसर बोर्ड से क्लियर होने के बावजूद मुख्यमंत्री ने अपना वादा नहीं तोड़ा है। इसके पहले उन्होंने राजपूत समाज के प्रतिनिधियों के साथ चर्चा भी की थी पहले एक दिसंबर को रिलीज होनी थी फिल्म को लेकर उठते विरोध के चलते मप्र में इसे बैन कर दिया गया था। बाद में डायरेक्टर भंसाली फिल्म का नाम बदलने और कुछ सीन काटने को भी राजी हो गए। फिल्म पद्मावत 25 जनवरी को सिनेमाघरों में रिलीज होने वाली है। बता दें कि पहले इस फिल्म को 1 दिसंबर को रिलीज किया जाना था लेकिन राजपूत समाज और करणी सेना के लगातार विरोध के चलते इसकी रिलीज डेट टल गई। करणी सेना ने किया था विरोध फिल्म में दीपिका पादुकोण, रणबीर सिंह के अलावा शाहीद कपूर लीड रोल में हैं। इस फिल्म में रानी पद्मावती के किरदार को गलत तरीके से पेश करने के आरोप लगाते हुए करणी सेना ने इसका कड़ा विरोध किया था जिसके बाद फिल्म की रिलीज डेट टल गई थी।