योगी ने कहा 72 घंटे में लड़कियाँ नहीं आयी तो …और फिर जो हुआ वो जानकर आप हिल जाएँगे !!

अगर आपको सरकार और उसके काम काज देखने हैं तो एक बार यूपी अवश्य जाकर आइए आपकी हैरानी की सीमा नहीं रहेगी क्यूँकि इस समय UP सरकार की तेज़ी भारत की किसी भी सरकार की तेज़ी से ज़्यादा दिख रही है।

बता दें यूपी में योगी सरकार का ज़बरदस्त असर दिख रहा है। आप सोच भी नहीं सकते कि पुलिस ने 72 घंटे में काफ़ी दिनों से 27 लापता लड़कियों को ढूंढ निकाला है। हालाँकि अभी 12 लड़कियों की तलाश अभी भी जारी है लेकिन बता दें कि ये मामले काफ़ी दिनों से लम्बित पड़े थे और कोई भी करवाई नहीं हो रही थी।  UP में ऐसा पहली देखने को मिला है।

अब पढ़िए पूरी ख़बर दरअसल उत्तर प्रदेश शाहजहांपुर इलाके में लड़कियों के गुम होने से जुड़े 39 मामले पेंडिंग पड़े थे । लापता लड़कियों के परिजन बार-बार उन्हें खोज निकालने के लिए थाने आ आकर ठोकरें खाते थे  । हैरानी की बात ये है कि इनमें से काफ़ी मामले 2016 से पेंडिंग पड़े थे। योगी सरकार के एक्शन में आते ही एसपी ने फटकार लगाई तो सारे पुलिस वाले लड़कियों को ढ़ूढने में निकल गए।

पुलिस ने जब काम करना शुरू किया तो एकदम से लड़कियाँ मिलने लगी  । केवल आसपास से ही नहीं, बल्कि दूर-दूर  के इलाकों से भी UP पुलिस ने लड़कियों को खोज निकाला। दो लड़कियों को  30 किमी की दूरी से बचाया गया, 3 को 55 किमी दूर कालन से बरामद किया गया। वहीं, एक लड़की को चंडीगढ़  और दो लड़कियों को इलाहाबाद तक से लाया गया ।

मीडिया से बात करते हुए अपना नाम गुप्त रखने की शर्त पर आला अधिकारियों ने बताया कि इन मामलों को सुलझाने के लिए ऊपर से पुलिसवालों पर पूरी छूट दी गई थी । उन्हें साफ़ साफ़ कह दिया गया था कि कुछ भी करो लेकिन जल्द से जल्द इन लड़कियों को खोजकर इनके घरवालों तक पहुँचाओ । इस बात का असर इतना जल्दी और ख़तरनाक हुआ कि केवल 72 घंटों में 27 लड़कियों को ढूंढ निकाला गया और अन्य 12 की तलाश अभी जारी है। योगी सरकार ने इलाक़े के पुलिस अधिकारियों को  ‘करो या मरो’ का सख्त संदेश दिया हुआ है ।  ख़ास बात ये है निष्फलता और निककमेपन के कारण 8 सब इंस्पेक्टरों का पहले ही पुलिस लाइन्स में तबादला किया जा चुका है और समान रैंक के 24 अन्य को 48 घंटों के भीतर बेहतर प्रदर्शन करने के लिए कहा गया है । देख लिया योगी सरकार का जलवा  ?