तुलसीदास जी ने नारी से संबन्ध के बारे में ये अत्यंत गोपनीय बातें कही थी, क्या आप जानते है !!

तुलसीदास जी ने जो सतयुग में कहा था वो आज भी यानि कलयुग में भी देखने को मिल रहा है !!

तुलसीदास अपने समय के बहुत महान कवि माने जाते थे . इन्होने अपने जीवन काल में बहुत सारे ग्रंथो की रचना की जिन्हें आज भी पढ़ा जा सकता है . तुलसीदास संस्कृत भाषा में विद्वान् होने के साथ-साथ हिंदी भाषा के प्रसिद्ध और सर्वश्रेष्ठ कवियों में से एक माने जाते थे .

तुलसीदास ने बहुत से ग्रंथ लिखे जिनके कुछ नाम इस प्रकार से है . रामचरितमानस, जानकी-मंगल, बरवै रामायण, श्रीकृष्ण-गीतावली, विनयपत्रिका, सतसई, संकट मोचन, छप्पय रामायण, कवित्त रामायण, यह तुलसी जी की कुछ रचनाएँ है .

आज हम आपके लिए तुलसीदास का एक विडियो लेकर आये है इस विडियो में तुलसीदास ने महिलाओं के बारे में ऐसी गोपनीय बाते कही है जिनके बारे में सभी को ज्ञान होना चाहिये . आइये विडियो देखकर जाने इन बातो को !!