8-10 साल की बच्चियों को चाकलेट खिलाता था इरशाद और फिर करता था ….

बिहार के पटना जिले में पुलिस ने एक ऐसे लड़के को गिरफ्तार किया है, जो आठ से दस साल की बच्चियों को बहला भूसलाकर अपनी हवस का शिकार बनाता था!

दोस्तों जहाँ एक तरफ़ हमारे समाज में महिलाओं व लडकियों को देवी का रूप माना जाता है तो वहीँ बहुत से ऐसे लोग है जो हैवानियत की सारी हदें पार कर देते है ये छोटी बच्चियों को तक नही बख्शते है अपनी हवस के भूख में ये इतने पागल हो जाते है कि इन्हें ये तक दिखाई नही देता जिसके साथ वे ये सब कर रहे है उस मासूम को इसके बारे में कुछ पता भी नही है.

image credit 

वैसे तो आपने ऐसे बहुत से किस्से सुने होंगे जिसमे मासूम बच्चियों के साथ रेप किया जाता है लेकिन जो किस्सा हम आपको यहाँ बताने जा रहे है इसमें शख्स की चालाकी तो देखों मोहल्ले की सभी बच्चियों को जिनकी उम्र 8-10 के बीच हो, उन्हें बुलाता था और फिर उन्हें चॉकलेट का लालच देकर बेहोश कर देता और उनके साथ गलत काम करता था इस तरह वह पूरे मजे लेता था लेकिन उसकी इस हवस का शिकार होती थी छोटी बालिकाएँ  । बेचारी छोटी मासूम बच्चियां अपने घरों में ये तो बता देती थी कि उनके साथ क्या हुआ है लेकिन किसने किया और कब किया और कहाँ किया ये नही बता पाती थी.

फिलहाल परिवार वालों की शिकायत पर आरोपी को गिरफ्तार कर दिया गया है. दरअसल जिस जगह पर दरिंदा बच्चियों के साथ गलत काम करता था वहां पर कैमरे लगे हुए थे जिसकी वजह से वह पकड़ा गया.

आपकी जानकारी के लिए बता दें आरोपी का नाम इरशाद है, नाम से आप जान गए होंगे लड़का ख़ास समुदाय से है और एक बात ये भी है हालाँकि इसका मजहब से कुछ लेना देना नहीं है क्यूँकि आरोपी तो आरोपी है चाहे वो कोई भी हो  ।  लेकिन आजकल जब भी कहीं इस तरह की घटना घटती है तो उसके पीछे किसी न किसी ख़ास समुदाय के व्यक्ति का ही हाथ ज़्यादा होता है  । हालाँकि सब धर्मों में ऐसे कुत्सित मानसिकता के लोग देखने को मिलते हैं ।

By: Thakur Mintu on Sunday, July 16th, 2017