इस राष्ट्रवादी शख्श ने किया “Times Of India” का बहिष्कार, कारण जानकर आप भी ऐसा ही करेंगे !

भारत में पत्रकार और पत्रकारिता का स्तर इतना नीचे गिर चुका है कि अब कोई भी खबर पढ़ते हुए शर्म आ जाती है . मीडिया चैनल तो बिकाऊ हो ही चुके थे, अब समाचार पत्र भी खबरें लिखते हुए ज्यादा ध्यान देना जरुरी नहीं समझते है .

बता दें कि भारत के नामी अखबारों में से एक है “Times Of India” . दरअसल इसमें एक खबर का शीर्षक ऐसा बनाया गया . जिसमें सेना के जवान और आतंकवादी के बीच कोई फर्क ही नहीं रखा गया और ये बात एक राष्ट्रवादी को चुभ गई . इसके पश्चात उसने इस अखबार को भविष्य में कभी भी इस्तेमाल न करने का फैसला लिया . खबर लिखने में इस तरह की लापरवाही न जाने कितनी बात हो चुकी होगी और हम लोग इस ओर शायद ज्यादा ध्यान भी नहीं देते लेकिन इस तरह के शब्दों का इस्तेमाल बंद होना चाहिए .

वीडियो में देखिये क्या था वो शीर्षक और किस तरह हमारे जवानों का अपमान हुआ ? वो खुद यह राष्ट्रवादी आपको बता रहा है . आप भी सुनकर इस अखबार का बहिष्कार आवश्य करेंगे .

 

By: Jyoti Kala on Friday, February 17th, 2017

Loading...