ये संकेत बताते हैं आप पर काला जादू या तंत्र शक्तियों का प्रयोग हुआ है ! जान लीजिए कहीं देर ना हो जाए !

जानिये कैसे करें पहचान भूत-प्रेत बाधा की और केसे ?

काला जादू पारम्परिक रूप से पराप्राकृतिक शक्तियों अथवा दुष्ट शक्तियों की सहायता से अपने स्वार्थी उद्देश्यों को पूर्ण करने के लिए किया जाने वाला एक जादू है. क्या काला जादू एक हकीकत है? हां और शायद नहीं. काला जादू एक ऐसी बुरी शक्ति या बुरी ऊर्जा जो किसी पर बुरा प्रभाव डालती है. दोस्तों आज हम आपको बेहद ही महत्वपूर्ण जानकारी देने वाले हैं जो आपके काम आ सकती है.

दोस्तों काले जादू के बारे में तो आपने सुना ही होगा. आज के युग में वैसे तो कोई इन बातों पर विश्वास नहीं करते लेकिन जो भी इन बातों पर भरोसा करते हैं उनके लिए हम ऐसी जानकारी लेकर आये हैं जो उनके काम की है. दोस्तों नकारात्मक तंत्र-मंत्र को वो लोग अपनाते हैं जोकि दूसरों की सफलता से ईर्ष्या करते हैं.

इस तरह के व्यक्तियों के अंदर नकारात्मकता, ईर्ष्या, लालच, निराशा, कुंठा इस तरह से घर कर जाती है कि वे दूसरों की सफलता, उन्नति, समृद्धि को स्वीकार नहीं कर पाते हैं और  वे उस व्यक्ति से प्रतिशोध लेने के लिए काले जादू के द्वारा उसके लिए परेशानियां पैदा कर आनंद का अनुभव करते हैं. काले जादू का प्रयोग दूसरे व्यक्ति को हानि पहुंचाने या चोट पहुंचाने के लिए कुछ विशेष तरह की क्रियाओं के द्वारा सम्पन्न किया जाता है.

तो चलिए जानते हैं काले जादू के लक्षण ! वीडियो देखने के लिए यहाँ क्लिक करें !

दोतों आपकी जानकारी के लिए बता दें कि काले जादू अर्थात नकारात्मक तंत्र-मंत्र से ग्रसित व्यक्ति के कुछ साधारण लक्षण हैं जैसे मानसिक अवरोध, श्वांसों में भारीपन तथा तेज चलना, गले में खिंचाव, जांघ पर नीले रंग के निशान बिना किसी चोट के, घर में बिना किसी विशेष कारण के कलह या लड़ाई-झगड़ा, घर के किसी सदस्य की अप्राकृतिक मृत्यु, व्यवसाय में अचानक हानि का होना आदि.

याद रहे कुछ और लक्षण भी हैं जैसे कि हृदय में भारीपन महसूस होना, निद्रा पर्याप्त न आना, किसी की मौजूदगी का भ्रम होना, कलह आदि साधारणतया देखने में आते हैं. व्यक्ति अशांत सा रहता है तथा उसको किसी भी तरह से शांति नहीं मिलती.  निराशा, कुंठा तथा उत्साह की कमी भी इसी का परिणाम है. यदि काले जादू का समय रहते उपाय न किया जाए तो यह अत्यंत विनाशकारी, भयानक तथा घातक हो सकता है.

दोस्तों इसके परिणाम ये हो सकता है कि जातक की जिंदगी तबाह तथा बर्बाद हो सकती है या फिर उसे कोई भयानक बीमारी अपने लग  सकती है.

By: Neha Kamal on Sunday, November 12th, 2017