देखिये उस सबसे पहले हिजड़े की कहानी जिसने दिया था एक बच्चे को जन्म और फिर ……

किन्नरों के बारे में आप सभी अच्छे से जानते ही हो. जब भी घर में किसी बच्चे का जन्म होता तब उस वक़्त उन्हें  बुलाया जाता है और उनके द्वारा बच्चे को आशीर्वाद दिलाया जाता है और साथ ही बच्चे के मंगल भविष्य की कामना की जाती है लेकिन फिर भी ना जाने क्यूँ वो हमारे समाज का हिस्सा होते हुए भी उन्हें अलग नजरों से देखा जाता है.

आपको मालूम ही होगा इनकी दुनिया आम लोगों की दुनिया से बिलकुल अलग तरह की होती है. ये लोग बच्चा पैदा तो नही कर सकते. इसी वजह से भारत में लगभग बीस लाख से भी ज्यादा किन्नर है लेकिन धीरे धीरे इनकी संख्या कम होती जा रही है हैरानी की बात ये है कि फिर भी इन्हें सन्तान मिल ही जाती है और ये उनका लालन पोषण बहुत ही अच्छे ढंग से करते हैं.

ऐसा कहा जाता है कि ये किन्नर मनुष्य रूप में जन्म लेने के बाद भी एक शापित जिन्दगी जीते हैं और इसी वजह से इन्हे कभी भी आम इंसानों की तरह नही समझा जाता और ना ही इन्हे कोई बराबरी का दर्जा दिया जाता है. ये अपना जीवन अपने साथी  किन्नरों के साथ जीते हैं और पूरी जिन्दगी उन्ही के साथ रहते हैं.

लेकिन क्या आप सबसे पहले हिजड़े के बारे में जानते है जिसने एक बच्चे को जन्म दिया था यदि नहीं तो आज आप भी देखें एक ऐसे ही किन्नर की कहानी जिसने एक बच्चे को जन्म दिया था …

By: Sumit Singh on Friday, May 19th, 2017