बड़ी खबर : अमेरिका-उत्तर कोरिया के बीच बढ़ते तनाव को देख रूस की मिसाइलें मुस्तैद !!

अमेरिका-उत्तर कोरिया का युद्ध होगा दुनिया का अंत, चिंता का विषय है ये तनाव : रूस

अमेरिका-उत्तर कोरिया के दिन प्रतिदिन बढते तनाव ने एक नया रूप ले लिया है. उत्तर कोरिया हर दिन किसी न किसी हथियार का परीक्षण करते नज़र आ रहा है. माना जा रहा है कि अमेरिका और कोरिया में बदलते हालात युद्ध का रूप कभी भी ले सकते है. परमाणु शक्ति संपन्न उत्तर कोरिया ऐसी मिसाइल बनाने में दशकों से जुटा था, जिससे वह अमेरिका तक को निशाना बना सके. लेकिन अब अमेरिका ने भी इस धमकी को स्वीकार करते हुए जंग लड़ने का मन बना लिया है..

Related image

अमेरिका-उत्तर कोरिया बढ़ते तनाव के बीच रूस का मिसाइल रक्षा तंत्र हाई अलर्ट पर !!

Image result for अमरीका-उत्तर कोरिया तनाव

मिसाइल डिफ़ेंस सिस्टम से इंटर-कॉन्टिनेंटल बैलेस्टिक मिसाइल या अन्य बैलेस्टिक मिसाइल के हमले को बीच में ही ध्वस्त किया जाता है.रूसी संसद के ऊपरी सदन के एक सदस्य विक्टर ओज़ेरॉव ने कहा है कि वायुसेना और हवाई क्षेत्र सुरक्षा बलों को फ़ार ईस्ट इलाके में मुस्तैद किया गया है.”उन्होंने कहा है, ”उत्तर कोरिया को लेकर जो हो रहा है उस पर नज़र बनाए हुए हैं और लॉन्च के संभावित इलाकों पर हमारा विशेष ध्यान है.”

रूस नहीं चाहता अमेरिका-उत्तर कोरिया युद्ध !!

Image result for अमरीका रूस

रूस ने अमरीका से उत्तर कोरिया पर हमला नहीं करने को कहा है. रूस की सरकारी मीडिया एजेंसी टेस की रिपोर्ट के मुताबिक रूस उम्मीद करता है कि अमरीका ऐसे कदम उठाने से बचेगा जो उत्तर कोरिया को ख़तरनाक कार्रवाई करने के लिए भड़का दें. संयुक्त राष्ट्र में रूसी राजदूत वैज़िली नेबेन्ज़्या ने अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप की उत्तर कोरिया को दी धमकी पर भी बयान दिया है. नेबेन्ज़्या ने कहा है कि हम चाहते हैं कि अमरीका को शांत रहना चाहिए.

चीन ने भी अमरीका को किया आगाह !!

Image result for अमरीका-उत्तर कोरिया तनाव

चीनी अख़बार ग्लोबल टाइम्स ने कहा है कि अगर अमरीका के ख़िलाफ़ उत्तर कोरिया हमला करता है तो चीन को तटस्थ रहना चाहिए. लेकिन अख़बार ने ये भी कहा है कि अगर अमरीका और दक्षिण कोरिया सत्ता परिवर्तन के इरादे से उत्तर कोरिया पर हमला करता है तो चीन को चुप नहीं रहना चाहिए. इस सरकारी अख़बार ने कहा है कि चीन को इस हमले को रोकने के लिए हस्तक्षेप करना चाहिए. ग्लोबल टाइम्स के बारे में कहा जाता है कि वह चीन की सत्ताधारी कम्यूनिस्ट पार्टी का मुखपत्र है.

By: jagjit singh on Saturday, August 12th, 2017