भारत-चीन तनाव के बीच रूस का ऐलान भारत को देगा ये घातक हथियार,चीन के कई शहर होंगे निशाने पर !

दोनों देशों में बातचीत शुरू !

चीन के साथ चलते विवाद के बीच मोदी सरकार भारतीय वायुसेना को और मजबूत करने की तरफ काम कर रही है और मीडिया सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जल्दी ही रूस से भारत वो ताकत लाने जा रहा है जो चीन पर भारी पड़ने वाली है !

भारत दुनिया की पांचवी बड़ी सैन्‍य महाशक्‍ति है. परमाणु शक्‍ति से लैस भारत आज दुनिया का सबसे बड़ा हथियारों का आयातक देश भी है. फिलहाल इंडिया रशिया से मिग-35 विमान खरीदने जा रहा है. विशेषज्ञों का मानना है कि ये विमान भारत की ताकत में बेहद इजाफ कर देंगे. आइए जानते हैं आखिर क्‍या खासियत है मिग मिग-35 की.

आपकी जानकारी के लिए हम बता दें कि अभी हाल ही में भारत के सबसे अच्छे दोस्त रूस की एक कंपनी मिकोयान MiG कॉर्पोरेशन ने अब तक का अपना सबसे एडवांस्‍ड फाइटर प्लेन MiG-35 बनाया है. वह इसे इंडिया को बेचना चाहती है.भारत सरकार के साथ रूस की इस पर बातचीत शुरू हो चुकी है.बताया जा रहा है जल्दी भारत रूस से इस ताकत को लेने जा रहा है जो चीन-पाकिस्तान की चिंता बढ़ाने के लिए काफी है.निचे दी गयी विडियो में आप मिग-35 की ताकत देख सकते हो.

READ ALSO : VIDEO : भारत-रूस के बीच 1 अरब के हुए इस रक्षा सौदे ने उड़ाई पाक-चीन की नींद,खौफ में पाकिस्तान !

आपको बता दें कि बड़े-बड़े एक्सपर्ट मानते हैं कि मिग-35 को दुनिया के सबसे खतरनाक लड़ाकू विमानों में से एक माना जा रहा है. मिग-35 का लौहा बड़े-बड़े देश मान रहे हैं यहाँ तक कि इसे अमेरिका के एफ-35 लड़ाकू विमानों से भी ज्यादा बेहतर बताए जा रहा है. मिग-35 का सार्वजनिक प्रदर्शन एमएकेएस एयरोस्पेस एक्जिबिशन में किया गया.

READ ALSO : 1971 भारत-पाक युद्ध में अमेरिका और ब्रिटेन थे पाक के साथ -रूस ने निकाली थी इन सबकी हवा !

मीडिया सूत्रों के अनुसार ये रुसी MiG-35 यानी की Mikoyan यह एक मल्टिरोल फाइटर है और एक तरह से मिग-29 का एडवांस्‍ड एडीशन है. यह फोर्थ जनरेशन का फाइटर प्‍लेन है.

19 मीटर लंबा और तकरीबन 15 मीटर के डैनों का फैलाव, ऊंचाई 6 मीटर और खाली वजन 11,000 किलोग्राम के साथ ये विमान बेहद शक्‍तिशाली है.एक्‍सपर्ट के मुताबिक इस फाइटर प्‍लेन में 17,500 किलोग्राम तक गोला-बारूद और दूसरे विपंस लगाए जा सकते हैं. यही नहीं यह विमान तकरीबन 29,700 किलोग्राम वजन लेकर उड़ सकता है.

भारत और चीन के बीच बढ़ते तनाव के बीच भारत के साथ रूस इस सौदे को हरी झंडी दे देता है तो चीन पर इसका काफी दबाव पड़ना तय है.जब से मोदी सत्ता में आए हैं भारत ने अपनी ताकत में बहुत इजाफा किया है.निचे दी गयी विडियो देखना ना भूले भारत नहीं किसी से कम !