इस बड़े खिलाड़ी के पिता थे सिक्युरिटी गार्ड, चलाता है 97 लाख की ऑडी, ऐसे बदल गयी जिन्दगी !

ऐसे बदली आज जिंदगी कि पहचान नही पाओगे !!!

दोस्तों ये आमतौर पर देखा गया है जिसका बचपन गरीबी में बीतता है वो अपनी मेहनत से एक न एक दिन फेमस जरुर हो जाता है ऐसे ही एक खिलाडी के संघर्ष की कहानी हम आपको बताने जा रहे है.

टीम इंडिया के स्टार स्पिनर रविन्द्र जडेजा 29 साल के हो गए हैं। कभी साधारण लाइफ जीने वाले जडेजा आज क्रिकेट सेलिब्रिटी बन हैं। उनके पास दो लग्जरी ऑडी कार हैं। 2016 में उन्हें 97 लाख रुपए की ऑडी Q 7 गिफ्ट में मिली थी। ये गिफ्ट उन्हें उनके ससुर ने शादी से पहले दिया था। जडेजा सिंपल फैमिली से आते हैं और उनका बचपन भी मुश्किलों में बीता।

रवींद्र जडेजा का जन्म गुजरात की एक छोटी सी जगह नवागाम में हुआ। उनके पिता एक प्राइवेट कंपनी में सिक्युरिटी गार्ड थे, जबकि मां नर्स थीं। आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के कारण जडेजा और उनकी फैमिली के लिए क्रिकेटर बनने तक का सफर आसान नहीं रहा।

जडेजा की मां चाहती थीं कि बेटा क्रिकेटर बने। जबिक, पिता उन्हें डिफेंस में भेजना चाहते थे। जडेजा भी मां का सपना पूरा करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे थे।अचानक 2005 में एक एक्सीडेंट में उनकी मां का निधन हो गया। इससे जडेजा इतने टूट गए थे कि क्रिकेट छोड़ने तक का मन बना लिया था।

अपनी बहनों के कहने पर वो खेल में लौटे और आज टीम इंडिया के स्टार ऑलराउंडर हैं। जडेजा की 2 बहने हैं। एक उनका रेस्टोरेंट का बिजनेस संभालती हैं।- जडेजा के कार कलेक्शन में दो ऑडी कार हैं। 2016 में उन्हें उनके ससुर ने ऑडी Q 7 गिफ्ट की थी। इसकी कीमत करीब 97 लाख रुपए है। इससे पहले से जडेजा के पास ऑडी Q 3 कार थी। कार के अलावा उन्हें घोड़ों का भी शौक है। जडेजा के फॉर्म हाउस में कई शानदार घोड़े हैं।

इसके साथ ही जडेजा को 2002 में पहली बार सौराष्ट्र की अंडर-14 टीम में खेलने का मौका मिला। महाराष्ट्र के खिलाफ पहले ही मैच में उन्होंने 87 रन बनाए और 4 विकेट भी झटक लिए। 15 साल की उम्र में ही वो सौराष्ट्र की अंडर-19 टीम में आ गए थे। इसी फॉर्मेट में उन्होंने अपने करियर की पहली सेन्चुरी भी लगाई थी।