झूठे पाकिस्तान का एक ओर झूठ बेनकाब, बाबर-3 मिसाइल का किया था फेक परिक्षण !!

पिछले हफ्ते भारत ने अपनी दो बड़ी मिसाइलों का सफल परिक्षण किया था. इसे देखकर पाकिस्तान की नींद उड़ गयी और बुरी तरह से बेचैन हो गया. इस बेचैनी के कारण पाकिस्तान ने बाबर-3 मिसाइल के सफल परीक्षण का दावा किया है. लेकिन आपको बता दे कि पाकिस्तानी सेना के मिसाइल परीक्षण का ये विडियो फेक है. यह विडियो कंप्यूटर ग्राफ़िक्स के माध्यम से बनाया गया है. पाकिस्तान का ये झूठ चंद घंटों में पूरी दुनिया के सामने आ गया. विश्लेषकों का कहना है कि पाकिस्तान की इतनी औकात नहीं है कि वो इस मिसाइल का अपने दम पर परिक्षण कर सके ।

पाकिस्तान के इंटर सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस के मेजर जनरल आसिफ गफूर ने अपने ट्वीट के जरिये इस मिसाइल लॉन्‍च की जानकारी दी थी. पाकिस्तानी सेना ने दावा किया था कि ये मिसाइल 450 किलोमीटर तक मार कर सकती है. इस परिक्षण से पाकिस्तानी मीडिया ख़ुशी के मारे पागल हुई जा रही थी. लेकिन भारतीय सैटलाइट इमेजरी ऐनालिस्ट समेत कई एक्सपर्ट्स ने पाकिस्तान के इस झूठ का पर्दाफाश कर दिया. 

सूत्रों से पता चला है कि इस मिसाइल को हिंद महासागर में किसी गुप्‍त स्‍थान से छोड़ा गया था. विडियो में दिखाया गया है कि मिसाइल का रंग सफेद से नारंगी हो जाता है. इसकी स्पीड भी इतनी ज्यादा है जो बिल्कुल संभव नहीं है. डिफेंस ऐनालिस्ट ने अपने ट्वीट्स के जरिए दावा किया कि पाकिस्तान ने बाबर-3 का सफलतापूर्व परीक्षण दिखाने के लिए मिसाइल का कंप्यूटर निर्मित फोटो तैयार किया. इस मिसाइल के परिक्षण पर संदेह इसके ट्रैवल टाइम को लेकर हुआ.

By: Staff Writer on Tuesday, January 10th, 2017