OBC आरक्षण का लाभ मुसलमानों को दे रही ममता बनर्जी, मीडिया ने अपनी आँखों पर पट्टी बांध रखी है !

सोमवार को पश्चिम बंगाल के कमिशन फॉर बैकवर्ड क्लासेज ने मुस्लिम समुदाय की एक और जाति को OBC कैटेगिरी के अंतर्गत शामिल किया है इसके बाद OBC कैटेगिरी में मुस्लिम समाज की जातियां बढ़कर 113 हो गयी है सूत्रों के मुताबिक़ मिली खबर के अनुसार रिजर्वेशन का लाभ 2 करोड़ 47 लाख मुस्लिमो को मिल रहा है यह आंकड़ा बंगाल की कुल मुस्लिम आबादी का 95% है .

इस मामले में SC,ST और OBC के लिए काम करने वाले एक NGO अनुसार राज्य सरकार का कोटा सिस्टम असवैधानिक है बता दें कि इस NGO ने राज्य सरकार के आरक्षण सिस्टम के खिलाफ कोलकाता हाईकोर्ट में केस किया है जिसकी आखिरी सुनवाई 13 अप्रैल को होगी, राज्य सरकार में 13% नौकरियां OBC कैटेगिरी के लिए आरक्षित है .

इस साल 600 मुस्लिमो को मेडिकल में मौका मिला है जो कुल सीटो का 20% है प्राइमरी एजुकेशन बोर्ड के अनुसार भर्ती किए गए स्टाफ में से आधे से ज्यादा तो आरक्षण के जरिए ही आए है पिछले साल 3000 MBBS और BDS सीटो में से 400 सीट मुस्लिम छात्रों के लिए आरक्षित थी इसके साथ ही विपक्ष ने सरकारी नौकरियों में कोटा सिस्टम लगाने पर सवाल उठाए है विपक्ष के अनुसार कैटेगिरी A में केवल मुस्लिम ही OBC आरक्षण का लाभ उठा रहे है .

ममता बनर्जी सरेआम मुस्लिमो को फायदा पहुंचा रहा है लेकिन हमारे देश की सेक्युलर मीडिया ने तो जैसे कुछ न बोलने की कसम खा रखी है हिन्दुओ के अधिकारों का हनन किया जा रहा है मीडिया ने अपनी आँखों पर पट्टी बांध रखी है क्या हो रहा है इस देश में, क्यूँ कोई इसके खिलाफ आवाज नही उठाता .