भारतीय सेना को तीन दशक बाद मिली नई तोपें, पोखरण में हुआ परीक्षण !

भारतीय सेना को मिली नई तोपे जानिए क्या खूबी है इनमे !

आपकी जानकारी के लिए बता दें भारतीय सेना को पुरे 3 दशक के बाद नई तोपे मिली है आज अमरीका के BAE सिस्टम से मिली 2 155 एमएम/39 कैलिबर अल्ट्रा लाइट हॉविटजर्स (यूएलएच) तोपों का राजस्थान के पोखरण रेंज में परिक्षण किया गया, बता दें M-777 हॉविटजर्स तोपों के खरीद को लेकर अमरीका से साल 2010 में बातचीत शुरू हुई थी .

सैनिको को मिली नयी तोपों से भारतीय सेना मजबूत, परिक्षण रहा सफल, दुश्मनों को मुँह तोड़ जवाब देने के लिए भारत कारगर – “नरेन्द्र मोदी”

इसके बाद 26 जून 2016 को नरेंद्र मोदी सरकार ने 145 तोपों की खरीद की घोषणा की, बोफोर्स तोपों में दलाली के आरोप में आए राजनीतिक तूफान की वजह से सेना के तोपखाने से जुड़े तमाम सौदों पर एक तरह से रोक लग गयी थी जिसके कारण भारतीय सेना का तोपखाना अत्याधुनिक तोपों से महरूम था भारतीय सेना साल 2020 तक 169 रेजीमेंट में 3503 तोपों को शामिल करना चाहती है इन तोपों में भारत में निर्मित अत्याधुनिक तोपों भी शामिल होगी, हालांकि भारतीय तोपों का निर्माण कार्य तय मियाद से पीछे चल रहा है .

जिन 2M 777 हॉविटजर्स तोपों का पोखरण में परिक्षण होगा उनसे विभिन्न प्रकार के आयुधो का इस्तेमाल करके देखा जाएगा इन तोपों को भारतीय वातावरण में भारतीय आयुधो को दागने लायक बनाया गया है अमरीका कनाडा और ऑस्ट्रेलिया की सेनाए पहले ही M777 हॉविटजर्स तोपों का प्रयोग कर रही है ईराक और अफगानिस्तान में ये तोपे तैनात है .

भारत लगातार उन्नति कर रहा है वह अपने पड़ोसी देशो को हर चीज में पीछे छोड़ता जा रहा है आज भारत उस मुकाम पर पहुँच गया है जहाँ पर कोई भी देश इससे दुश्मनी लेने से पहले 100 बार तो जरुर सोचेगा .

By: Thakur Mintu on Friday, May 19th, 2017