VIDEO : 21000 साल से यहाँ रहते है भगवान शिव- कैलाश पर्वत से जुड़ा ये सच नहीं जानते आप भी !

कैलाश पर्वत से जुड़ा अनसुलझा रहस्य !

आप यह तथ्य जानते ही होंगे की सुंदर कैलाश पर्वत, जो तिब्बत मे है, वहाँ कोई पर्वतारोही आज तक चढ़ाई नहीं कर पाया | यह सिर्फ़ कहानियों मे सुना गया है की रहस्यमई तिब्बतिअन योद्धा और कवि “मिलरेपा” एकलौते ऐसे इंसान हैं जिन्होने कैलाश पर्वत की चोटी पर विजय प्राप्त की है | क्या आपने कभी सोचा है कि इस पर्वत की चढ़ाई इतनी दुर्गम क्यों है ?

क्या है यह शारीरिक दुर्बलता है या इस पर्वत की ऊंचाई है या ऐसा कोई रहस्य जिसको इंसान समझ नहीं सकता.आज के इस विडियो में हम बात करेंगे कैलाश पर्वत से जुड़े अनसुलझे रहस्य के बारे में.आज से 15 से 20 हजार वर्ष पूर्व वराह काल की शुरुआत में जब देवी-देवताओं ने धरती पर कदम रखे थे, तब उस काल में धरती हिमयुग की चपेट में थी। इस दौरान भगवान शंकर ने धरती के केंद्र कैलाश को अपना निवास स्थान बनाया।

भगवान शिव का वास हमेशा से ऊंचाई वाली जगह पर ही रहा है.अमरनाथ हो या बिजली महादेव हो ये सभी जगह ऊंचाई पर ही हैं.बिजली महादेव हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में स्थित है जबकि अमरनाथ के बारे में तकरीबन हर व्यक्ति जानता है.पूरी कुल्लू घाटी में ऐसी मान्यता है कि यह घाटी एक विशालकाय सांप का रूप है। इस सांप का वध भगवान शिव ने किया था.जिस स्थान पर मंदिर है वहां शिवलिंग पर हर बारह साल में भयंकर आकाशीय बिजली गिरती है.

बिजली गिरने से मंदिर का शिवलिंग खंडित हो जाता है। यहां के पुजारी खंडित शिवलिंग के टुकड़े एकत्रित कर मक्खन के साथ इसे जोड़ देते हैं !

देखे विडियो :

By: hindutva Info Writer on Tuesday, July 4th, 2017