बड़े मुस्लिम देश के हाहाकारी ऐलान से सदमें में पूरा पाकिस्तान,पाकिस्तान को नहीं थी इसकी कल्पना !

मुस्लिम देश कतर ने बुधवार को 80 देशों के नागरिकों को देश में बिना वीजा दाखिले को मंजूरी दे दी है जिसमें भारत भी शामिल है,कतर ने छह अरब देशों की ओर से लगाए गए प्रतिबंधों के बाद अपने देश में पर्यटन और हवाई यातायात को बढ़ावा देने के मकसद से यह कदम उठाया है।

यूरोप के दर्जन भर देशों और भारत समेत दूसरे देशों जैसे न्यूजलैंड, दक्षिण अफ्रीका और अमेरिका से आने वाले कई नागरिकों को अब कतर में दाखिल होने के लिए सिर्फ एक पासपोर्ट की जरूरत होगी.कतर वर्ष 2022 में होने वाले फुटबॉल वर्ल्ड कप का मेजबान है.33 देशों के नागरिकों को जहां कतर में 180 दिनों तक रहने की मंजूरी है तो वही बाकी 47 देशों के नागरिक 30 दिनों से ज्यादा दिनों तक कतर में रुक पाएंगे.

लेकिन् इन सब में जो सबसे बड़ी बात है और जिस वजह से आज पूरा पाकिस्तान रो रहा है वो यह कि इन 80 देशों की लिस्ट में पाकिस्तान को जगह नहीं मिली है यानि पाकिस्तान के किसी नागरिक को कतर जाना होगा तो उसे वीजा लेकर ही जाना होगा,एक मुस्लिम देश ने पाकिस्तान को उसकी असली औकात दिखाई है ये सब इसलिए हुआ क्योंकि कतर जानता है पाकिस्तान एक आंतकी देश है.कतर के इस फैसले के बाद से ही पाक मीडिया बिलख-बिलख कर रो रही है.ये सबसे बड़ा पाकिस्तानी आर्मी को है जो शुरू से कतर के साथ अपने अच्छे रिश्तों को लेकर चिंता में है.

पाकिस्तान इस वजह से भी मातम मनाने पर मजबूर है क्योंकि इस लिस्ट में भारत का नाम तो है ही पर भारत को एक और फायदा भी इस घोषणा में हुआ है और वो यह कि भारत के साथ कतर अपने और अच्छे सबंध बनाना चाहता है जोकि पाकिस्तान को भारी पड़ने वाला है.आज ये सब सिर्फ मोदी की विदेशनीति की वजह से हो रहा है.

Image result for मोदी कतर

आज दुनिया के सामने पाकिस्तान को आंतकवाद पर नंगा करने का काम मोदी ने किया है और अब इसका असर सबको दिख रहा है ये मोदी की बड़ी कुटनीतिक जीत है !

By: hindutva Info Writer on Sunday, August 13th, 2017