क्या आप जानते हैं भगवान कृष्ण ने किया था मार्शल आर्ट का अविष्कार ??

क्या आप जानते है मार्शल आर्ट्स के जन्मदाता कौन है?

मार्शल आर्ट्स जो जापान और चीन में सबसे ज्यादा फेमस है उसका अविष्कार जनश्रुति अनुसार भगवान श्रीकृष्ण ने किया था. पहले मार्शल आर्ट्स को कालारिपयट्टू के नाम से संबोधित किया जाता है. भगवान श्रीकृष्ण ने 16 साल की उम्र में ही अपनी विद्या से चाणूर और मुष्टिक जैसे मल्लों का वध किया था.

आपको बता दे कि कृष्ण जी ने मथुरा में रजक नामक राक्षस का मार्शल आर्ट्स की ही तरह हाथ के प्रहार से सिर काटकर वध कर दिया था. जनश्रुतियों के अनुसार कालारिपयट्टू का जनक श्रीकृष्ण को ही माना जाता है. बाद में इस कला का प्रचार अगस्त्य मुनि ने किया था. डांडिया रास मार्शल आर्ट्स के का रूप है. कालारिपयट्टू को चीन और जापान में ले जाने वाले थे एक बोद्ध भिक्षु बोधिधर्मा. फिर उन्होंने इसका नाम मार्शल आर्ट्स रख दिया. 

इसी विद्या के कारण कृष्ण की नारायणी सेना इतनी शक्तिशाली थी. वर्तमान में केरल और कर्णाटक में कालारिपयट्टू बहुत प्रचलित है. बौद्ध राष्ट्रों में भी यह विद्या खूब फली-फूली. लेकिन इसके जन्मदाता श्रीकृष्ण ही है.

हमारा प्रयास रहता है कि हम आपको सभी प्रकार की जानकारी समय-समय पर देते रहें. अगर आपको हमारी ये जानकारी अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों से ये जरुर शेयर करे.

By: Staff Writer on Saturday, August 12th, 2017