DMCA.com Protection Status

जानिए इस सेना प्रमुख के बारे में जिसे देख इंदिरा गाँधी के भी उड़ जाते थे होश !!

एक समय ऐसा था जब भारत की राजनीति में प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का सिक्का चलता था और आपातकाल के बाद तो कोई उनसे आंख मिलाने की हिम्मत तक नहीं कर पाता था . लेकिन भारत में एक शख्स ऐसा भी था जिससे इंदिरा गाँधी को अक्सर डर लगता था . उनको लगता था कि वह शख्स किसी भी दिन आकर उनकी सत्ता पलटकर देश का तानाशाह बन सकता है .

 

दरअसल वह शख्श कोई ओर नहीं बल्कि “फील्ड मार्शल सैम मानेकशाह” थे . बता दें कि मानेकशाह 1971 की भारत पाकिस्तान युद्ध के हीरों रहे थे . युद्ध में भारत ने पाकिस्तान को हराकर पूर्वी पाकिस्तान को उससे अलग कर दिया था . जिससे बांग्लादेश का जन्म हुआ था . इस बात का खुलासा स्वयं मानेकशाह ने किया था कि इंदिरा गांधी सैम मानेकशाह को लेकर हमेशा खतरे का अनुभव किया करती थी . फील्ड मार्शल सैम ने बताया था कि देश में आपातकाल लगाने के बाद तो इंदिरा को हमेशा यह डर बना रहता था कि जिस प्रकार विपक्ष उनका विरोध कर रहा है उस स्थिति में तो सेना कभी भी उनका तख्ता पलटकर कर सकती है .

उनका सोचना था कि जिस प्रकार पड़ोसी देश पाक में सेना राजनीतिक हालात का लाभ उठाकर वहां तख्ता पलट देती है उसी प्रकार भारत में भी सेना उनकी गद्दी छीन सकती है . अपने इसी डर के कारण एक बार इंदिरा ने फील्ड मार्शल सैम से पूछ ही लिया कि सैम तुम कब सत्ता संभाल रहे हो?  इस पर मानेकशाह प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी से खफा हो गए . गुस्से को किसी प्रकार काबू में रखकर मानेकशाह ने इंदिरा से कहा कि इंदिरा जी मेरी नाक आपकी नाक से काफी ज्यादा लंबी है और मैं इसे दूसरों के मामलों में नहीं फंसाता हूं . बता दें कि वाकई में इंदिरा गांधी की नाक जितनी लंबी थी उससे कहीं लंबी नाक फील्ड मार्शल सैम मानेकशाह की थी . बता दें कि सैम ने अपनी लंबी नाक का हवाला देते हुए भारत में तत्कालीन प्रधानंमत्री इंदिरा गांधी के सैन्य तख्ता पल्ट की उनकी आंशका को सिरे से खारिज कर दिया था .

By: Jyoti Kala on Monday, February 13th, 2017

Loading...