जानिये बद्रीनाथ से जुड़ीं ये अनोखी बातें, जो इसे और भी ख़ास बनाती है !!

बद्रीनाथ धाम हिंदू धर्म के प्रसिद्ध चार धामों में से एक है. यह धर्म स्थल भगवान विष्णु का निवास स्थल माना जाता है. बद्रीनाथ धाम भारत के उत्तरांचल राज्य में अलकनंदा नदी के तट पर नर-नारायण नामक दो पर्वतों के बीच बसा हुआ है. बद्रीनाथ धाम इसलिए बेहद ख़ास है क्यूंकि इस धाम से कई धार्मिक और पौराणिक कथाएं जुड़ी हुई हैं. आज हम आपको इस धाम से जुड़ीं कुछ अनोखी बातें बताते है जिन्हें आप शायद ही जानते होंगे.

  1. मान्यता है कि बद्रीनाथ धाम पर ही वेदव्यास ने हिन्दू धर्म का सबसे महत्वपूर्ण ग्रन्थ महाभारत की रचना की थी. इस क्षेत्र में एक गुफा है जिसे महाभारत का रचनास्थल कहा जाता है.
  2. कहा जाता है कि आठवीं शताब्दी में आदि शंकराचार्य को एक कुंड में यहाँ स्थापित भगवान विष्णु की मूर्ति मिली थी. फिर राजाओं द्वारा इस मूर्ति को इस मंदिर में स्थापित किया गया था.
  3. अलकनंदा किनारे एक कुंड है जिसका नाम तप्त है. कहा जाता है कि यह कुंड किसी चमत्कार से कम नहीं है और इस कुंड का पानी हमेशा गर्म रहता है. इस कुंड में स्नान करने से पापों से मुक्ति मिलती है.
  4. भगवान विष्णु इस जगह के पालनहार है, उन्होंने कई वर्षों तक इस जगह पर तपस्या की थी इसलिए इस जगह को भगवान विष्णु की तपोभूमि कहा जाता है.
  5. इस मंदिर के गर्भग्रह में शिलाग्राम शिला से बनी भगवान विष्णु की चतुर्भुज मूर्ति स्थापित है जो की बहुत ही छोटी है. इस मूर्ति को हीरों से जड़ा हुआ मुकुट पहनाया हुआ है. इस मंदिर में भगवान विष्णु के साथ भगवान कुबेर और उद्धव की मूर्तियाँ भी स्थापित है.
  6. भगवान विष्णु ने यहाँ पर कठोर तपस्या की थी और देवी लक्ष्मी ने बेर का पेड़ बनकर सालों तक उन्हें छाया दी थी. तभी भगवान विष्णु ने इस जगह को बद्रीनाथ धाम का नाम दिया था.
  7. जिस अलकनंदा नदी के किनारे बद्रीनाथ धाम बसा हुआ है वह गंगा का ही भाग है.

By: Staff Writer on Tuesday, February 14th, 2017

Loading...