बड़ी खबर : एक किताब ने खोल दिए बड़े राज शादीशुदा इंदिरा गांधी का पं. नेहरू के सेक्रेटरी से था अफेयर ,और फिर ..

इंदिरा गाँधी ,फिरोज गाँधी ,नेहरु ,कांग्रेस

वरिष्‍ठ टीवी पत्रकार जिसे हिन्दू विरोधी पत्रकार में लोग ज्यादा जानते हैं वो सागरिका घोष उसने देश की पहली महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की जिंदगी के अनकहे रहस्यों पर एक किताब लिखी है और उसमें ऐसे खुलासे हुए हैं जिसे देख कांग्रेसी सदमे में जाएंगे !

इस किताब में सागरिका ने इंदिरा गाँधी और उनके पति फीरोज गांधी के संबंधों का जिक्र करते हुए कुछ सनसनीखेज खुलासे भी किये हैं.इंदिरा गाँधी को लेकर इस किताब में जो लिखा गया है उसे देखने की हिम्मत शायद ही कोई कांग्रेसी नेता कर पाए.

इस किताब में लिखा है, ‘फीरोज ने 1955 में जब जीवन बीमा का राष्‍ट्रीयकरण किया, प्रेस का संसदीय कार्यवाही की रिपोर्ट‍िंग की आजादी दिलाई, हालांकि बाद में इस कानून को इंदिरा ने ही इमरजेंसी के दौरान कुचल दिया.

आपकी जानकारी के लिए हम बता दें कि इस किताब में आगे लिखा गया है कि इंदिरा के पीटीआई फिरोज को इंदिरा के पिता नेहरु के सामने रहने से एक घुटन महसूस होती थी.फिरोज का तीन मूर्ति भवन में रहना मुश्किल हो चूका था.फिरोज के आशिकी मिजाज के किस्से दिल्ली की गली-गली में सुनाई देने लगे थे हर जगह उसके चर्चे होते थे.

इंदिरा का पीटीआई फिरोज अक्‍सर तारकेश्‍वरी सिन्‍हा, महमूना सुल्‍तान और सुभद्रा जोशी जैसी सांसदों के साथ अपनी दोस्‍ती का प्रदर्शन करते थे,जैसे की वो अपने सुसराल वालों को ये सब दिखा कर शर्मिंदा महसूस करवाना चाहते हों.

आगे इस किताब में लिखा गया था की लोगों को लगता था दोनों में तलक हो जायेगा या तो इंदिरा गाँधी के अफेयर के चलते या फिर फिरोज के रंगीन मिजाज के चलते.इस किताब के अनुसार इंदिरा का अफेयर था नेहरु के सेक्टरी से जिसका नाम मथाई था.

Image result for मथाई इंदिरा गाँधी

मथाई ने अपनी आत्‍मकथा में नेहरू काल का जिक्र करते हुए कथित तौर पर ‘शी’ नाम से एक पूरा खण्‍ड लिखा है.जिसमें इंदिरा गाँधी को लेकर जो लिखा गया उसे हम यहाँ लिख भी नहीं सकते इसलिए आपको हम जनसता में छपी उस खबर के स्क्रीन शॉट दे रहे हैं.

ये सनसनीखेज खुलासे इंदिरा की पूरी छवि खराब कर सकते हैं और कांग्रेस को भी इनपर जवाब देना मुश्किल हो जाएगा !

न्यूज़ सोर्स