कैसे अपने फायदे के लिए भारतीओं की भावनाओं से खिलवाड़ किया कांग्रेस ने !!

कांग्रेस का खिलवाड़

कांग्रेस शुरूआत से ही फायदे की राजनीती करती आयी है शायद यही वजह है कि कांग्रेस का निशान भारत में धीरे -धीरे खत्म होता जा रहा है. कुछ ऐसा ही देखने को मिला जब कांग्रेस के वकील नेता कपिल सिब्बल ने कुछ ऐसा कह दिया जिसे सुनते ही सारे दंग रह गए. यही बातें कांग्रेस के नीति को बताती है वो किस तरह अपनी सुविधा के लिए लोगों की भावनाओं के साथ खिलवाड़ करती है.

जानकारी के लिए बता दें कि सुप्रीम कोर्ट में तीन तलाक़ पर बहस करते हुए  कहा कि तीन तलाक़ मुसलमानों की भावना से जुड़ा हुआ मुद्दा है, तीन तलाक़ में दखल नहीं दिया जा सकता. साथ ही कपिल सिब्बल ने ये भी कहा कि हिन्दू मानते है कि राम अयोध्या में पैदा हुए. कपिल सिब्बल के इस कुकर्म ने आज बेशर्मी की सारी हदें पार कर दी कांग्रेस अलग -अलग कोर्ट में अपनी सुविधा के अनुसार भगवान् राम का इस्तेमाल कर रही है.

आपको बता दें कि 2004 में कट्टरपंथियों को खुश करने के लिए कांग्रेस ने उस वक़्त कहा कि राम कोई था ही नहीं और राम ही नहीं था तो राम सेतु भी  कुछ नहीं है. इस तरह की बातों से हिन्दुओं की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुँचाने का काम किया.

और आज वही कांग्रेस तीन तलाक़ के मामले में कह रही है कि भगवान् राम का अस्तित्व है जिसे उस वक़्त उनके अस्तित्व को नकार दिया था. इस तरह की दोहरी राजनीती के कारण अब कांग्रेस खुद में ही फसती नजर आ रही है.

जिन्होंने हिन्दुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचने का काम किया और शायद यही वजह है कि इस बात का दण्ड कांग्रेस को हार के रूप में मिल रहा है.