महाशिवरात्रि को भूलकर भी नही करें यह 9 काम वरना हो सकता है भारी नुकसान !

समस्त देवी देवताओं में सबसे जल्दी प्रसन्न होने वाले देवता भगवान भोलेनाथ है अगर सबसे जल्दी गुस्सा होने वाले देवता की बात करें तो वो भी भगवान भोलेनाथ ही है

महाशिवरात्रि का पर्व भगवान भोलेनाथ की पूजा और अराधना का पर्व माना जाता है क्योंकि समस्त देवी देवताओं में सबसे जल्दी प्रसन्न होने वाले देवता भगवान भोलेनाथ है अगर सबसे जल्दी गुस्सा होने वाले देवता की बात करें तो वो भी भगवान भोलेनाथ ही है इसलिए भगवान भोलेनाथ की पूजा करते समय कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए तो आइए जानते है उन बातों के बारे में…..

महाशिवरात्रि को ध्यान रखें किसी भी बुजुर्ग व्यक्ति गुरु, भाई, बहन, जीवन साथी, माता पिता, मित्र और ज्ञानी इन लोगों का गलती से भी अपमान ना करें अन्यथा शिवजी ऐसे लोगों से प्रसन्न नही होते है जो इन लोगों का अपमान करते है.

शिवजी को यदि आप प्रसन्न करना चाहते है तो शिवरात्रि के दिन किसी भी प्रकार का बुरा विचार आपके मन में नही आना चाहिए जैसे कि दूसरों को नुकसान पहुँचाने की योजना बनाना ऐसे विचार आपके मन में नही होने चाहिए.

शिव पूजन करते समय ये ध्यान रखें कि शिलिंग पर हल्दी ना चढ़ाएं हल्दी को जलाधारी पर चढ़ाएं क्योकि जलाधारी माता पार्वती का स्वरूप होता है.

शिवरात्रि को जल्दी उठना चाहिए पूजा के लिए सुबह सुबह का समय सबसे अच्छा माना जाता है और इस दिन हमे भगवान शिव का ध्यान करना चाहिए.

शिवरात्रि के दिन हमे मांसाहार नही खाना चाहिए क्योकिं मांसाहार के लिए जीव हत्या की जाती है और इस दिन हत्या करना महापाप माना जाता है.

क्रोध से मन की एकाग्रता और सोचने समझने की शक्ति समाप्त हो जाती है और क्रोध में की गई पूजा भी निष्फल मानी जाती है इसलिए हमे क्रोध नही करना चाहिए.

अधिकतर परिवारों में पति और पत्नी के बीच छोटी छोटी बात पर लड़ाई होती है और शिवरात्रि पर इस बात का भी विशेष ध्यान रखना चाहिए. इससे आगे की जानकारी हम आपको इस विडियो के माध्यम से देने जा रहे है जिसे जानना आपके लिए बेहद जरूरी है.

अधिक जानकारी के लिए नीचे दी गई विडियो देखें……..