DMCA.com Protection Status

मान गए :चीन को सबक सिखाने के लिए भारत ने पहली बार उठाया इतना बड़ा कदम !

चीन को भारत ने सुधरने के इतने मौके दिए लेकिन वह एक के बाद एक गलतियाँ करता आ रहा है जिसे देख अब भारत अब आकाश मिसाइल को वियतनाम को बेचने की बात कर रहा है जो जमीन से आकाश तक वार करने में सक्षम है । इस सम्बंध में वह वियतनाम के साथ बिक्री पर चर्चा भी कर रहा है सूत्रों के मुताबिक पता चला है कि भारत और वियतनाम के बीच द्विपक्षीय सैन्य सम्बंध अच्छे होने लगे है हालंकि इन दोनों को चीन से सावधान रहने की जरूरत है क्यूंकि चीन भारत के हर कार्य पर नजरे गडाए बैठा है ।

ये बात सभी जानते है कि इस साल भारत को NSG की सदस्यता मिल सकती है जो चीन बिलकुल नही चाहता है इसलिए वह भारत के रास्ते में बार-बार रोड़ा डालने की कोशिश कर रहा है इसके साथ ही चीन पठानकोट के आतंकी हमले के मास्टरमाइंड जैश-ए-मोहम्मद प्रखर मसूद अजहर को सयुंक्त राष्ट्र के आतंकियों के नामो की सूची  में शामिल करने में भी बाधा डाल रहा है . चीन को अच्छा सबक सिखाने के लिए भारत आस-पास के देशो से अपने सैन्य सम्बंध बढ़ा रहा है .

फिलहाल टाइम्स ऑफ़ इंडिया की खबरों के मुताबिक पता चला है कि भारत वियतनाम के साथ स्वदेशी आकाश मिसाइलो के सौदे को लेकर चर्चा कर सकता है आकाश मिसाइल की खास बात ये है कि इससे 25 किलोमीटर तक एयरक्राफ्ट, हेलीकॉप्‍टर और ड्रोन पर सीधा निशाना लगाया जा सकता है

बताते चलें कि जुलाई 2007 में  भारत और वियतनाम के बीच रणनीति साझेदारी को बढ़ाने के लिए एक समझौता हुआ था और पिछले सितम्बर 2016 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की यात्रा के दौरान इसे विस्तार दिया गया था  । ये भी जान लें कि वियतनाम चीन दोनो एक दूसरे के दुश्मन देश हैं और अगर भारत आकाश मिसाइल वियतनाम को देता है तो चीन को इससे बहुत फ़र्क़ पड़ेगा । वैसे भी हथियार ख़रीदने वाला भारत अब हथियार बेचने वाला देश बन रहा है और इसके लिए मोदी सरकार बधाई की पात्र है ।

By: Thakur Mintu on Monday, January 9th, 2017

Loading...