आधुनिक भारत में ब्राह्मणो की दुर्दशा कितना तर्कसंगत है ? पढ़ लीजिए जातिवादी नहीं हिंदुत्व की बात है

आधुनिक भारत में ब्राह्मणो की दुर्दशा कितना तर्कसंगत है ? पढ़ लीजिए जातिवादी नहीं हिंदुत्व की बात है

“ब्राह्मणवाद” के खिलाफ होना ही 21 वीं सदी के भारत में प्रगतिशील विद्वानों की राजनीतिक शुद्धता का मापदंड बन गया है !

अंग्रेज आज़ादी की मांग करने वाले भारतीयों को फांसी पर लटका देते थे फिर गांधी-नेहरु कैसे बच गए ?

अंग्रेज आज़ादी की मांग करने वाले भारतीयों को फांसी पर लटका देते थे फिर गांधी-नेहरु कैसे बच गए ?

8 लाख भारतीयों को आज़ादी की मांग करने पर अंग्रेजो ने मार डाला लेकिन गाँधी और नेहरु को छुआ तक नही, ऐसा कौन सा चमत्कार किया दोनों ने ?