पैसा नहीं है पर पैसा कमाना है तो इस उद्योग में जुट जाएँ सफलता आपके क़दम चूम लेगी !!

कम पढ़े लिखे युवा हमेशा यही सोचते रहते है कि वो ऐसा क्या काम करें जिससे उन्हें ज़्यादा से ज़्यादा पैसा कमाने को मिलें. हर कोई कम लागत में ज़्यादा कमाना चाहता हैं. लेकिन क्या आप जानते है कि मोमबत्ती उद्योग ऐसा उधोग है जिसमें लागत कम और सफलता ज़्यादा है. आज हम आपको मोमबत्ती उद्योग के बारें में बताते हैं. यह काम ऐसा काम है जो लघु उद्योग की श्रेणी में आता है. मोमबत्ती उद्योग को शुरू करने के लिए मात्र 10 हजार रूपए काफी है ।


इस उद्योग को करने के किए ख़ासकर के दो चीज़ों की ज़रूरत होती है. वो है सूत और मोम.
सूत ऐसी चीज़ है को कभी भी कही भी आसानी से मिल जाएगी. और मोम आपको रिफायनरी से प्राप्त हो सकता है. इन दोनों चीज़ों की मदद से मोमबत्ती बनाईं जा सकती है. भले ही आज बिजली की क़िल्लत ना होने के कारण मोमबत्ती का उपयोग कम होता है. लेकिन त्योहारों के समय मोमबत्ती की डिमांड बहुत ज़्यादा होती है. वैसे भी मोमबत्ती बनाने वाली मशीनें बहुत सस्ती हो गयी है । जितनी आसान मोमबत्ती बनाने की विधि है उतना आसान मोमबत्ती को बेचना है. मोमबत्ती की मार्केटिंग करना बहुत आसान है.

आजकल बाज़ार में रंगीन और आकर्षक मोमबत्तियों का चलन है तो ऐसी मोमबत्ती बनाने के लिए कोर्स भी कर सकते है. मोमबत्ती बनाने का कोर्स हर राज्य के अन्दर सरकारी संस्थायें और प्राइवेट संस्थाएँ करा रही है. मोमबत्ती उद्योग को अब सरकार भी मदद करने लगी है. प्रधानमंत्री मोदी ने नरेन्द्र मोदी ने लघु उद्योगों को सहायता करने के लिए कई योजनायें बना दी हैं ।

तो इस लेख को शेयर करके आप किसी जरूरतमंद की मदद कर सकते है. इस लघु उद्योग के बारे में आप अपने दोस्तों और अपने रिश्तेदारों को बता सकते है ।

By: Staff Writer on Wednesday, January 4th, 2017

Loading...