अमरीकी लेखक डॉ. डेविड फ़्रॉली ने कहा सनातन धर्म से बड़ा कोई धर्म नही !

इस खबर को पढने के बाद हर हिन्दू का सीना गर्व से और भी चौड़ा होने वाला है अमरीका के डॉ. डेविड फ़्रॉली जोकि एक विश्व प्रसिद्ध लेखक है उन्होंने भारत के इतिहास और धर्म के बारे में शोध किया और फिर इन्होने सनातन धर्म को ही स्वीकार कर लिया डॉ. डेविड फ़्रॉली लेखन के क्षेत्र में बेहद प्रसिद्ध है और भारत सरकार से लेखन के लिए इनाम भी जीत चुके है .

डॉ. डेविड फ़्रॉली सनातन धर्म और भारत की तारीफ़ हर जगह करते हैं ये लगातार अलग-अलग देशो की यात्राएं करते रहते है और फिर वहां भी सनातन धर्म व् भारत की ही तारीफ़ करते है डॉ. डेविड फ़्रॉली का कहना है कि ” दुनिया में न तो कोई देश भारत से महान है और न ही  कोई अन्य धर्म सनातन धर्म की महानता में इसकी बराबरी कर सकता है ” .

आगे भारत के बारे में बताते हुए डॉ. डेविड फ़्रॉली कहते है जब अरब के इलाके तथा यूरोप में लोगो को भाषा क्या होती है इसका भी सही ज्ञान नही था और जब वो लिखना भी नही जानते थे तब भारत में हिन्दुओ ने कई वेद लिख डाले थे ऐसी कोई किताब या ग्रन्थ नही है जोकि ऋग्वेद से पुराना हो .

डॉ. डेविड फ़्रॉली बताते है जब दुनिया को ये नही पता था शिक्षा क्या होती है उस जमाने में भारत में गुरुकुल चला करते थे जहाँ शिक्षा दी जाती थी, जब दुनिया में घर क्या होता है ये भी लोग नही जानते थे तब भारत में सभ्यताएं और कई राज्य बन चुके थे उदाहरण तौर पे सिंधु घाटी की सभ्यता .

इसके साथ ही डॉ. डेविड फ़्रॉली ने ये भी बताया है कि सनातन धर्म ही एकमात्र धर्म है बाकी अन्य तो मानवनिर्मित पन्थ है जोकि सनातन धर्म के देखादेखी पंथ बनाए है धर्म तो केवल एक ही है और वो है सनातन धर्म जोकि मानव निर्मित नही है .

By: Thakur Mintu on Friday, February 17th, 2017