200 हिन्दू मन्दिरों को समझा सबने खंडहर तो इस मुस्लिम शख्स ने किया ऐसा काम !

1992 में बाबरी मस्जिद के विध्वंस के बाद से ही हिन्दू – मुसलमानों के बीच तनाव बढ़ा हुआ है जहाँ एक तरफ कट्टरपंथी मुस्लिम हिन्दुओ के विरुद्ध अन्य मुस्लिमो को भड़का रहे है तो वहीँ कुछ ऐसे भी मुस्लिम है जो हिन्दुओ का साथ देते है ऐसा ही एक बहुत पुराना किस्सा आज हम आपको यहाँ बताने जा रहे है .

image credit 

ये कहानी है एक मुस्लिम की हैं जो हिन्दू मन्दिरों को बचाने के लिए खूंखार डाकुओ से लड़ गया था 2005 में पुरातत्व विज्ञानी KK मोहम्मद ने ग्वालियर से 40 km दूर बटेश्वर स्थित 200 मंदिरों के जीर्णोद्धार की जिम्मेदारी संभाली थी बता दें 9वी-11वी शताब्दी के बीच बने इन मंदिरों का अस्तित्व खतरे में था चूँकि यह क्षेत्र भी डाकुओ से प्रभावित था .

जब KK मोहम्मद को इस बात का पता चला कि जहाँ वे जा रहे है वो डाकुओ का इलाका है और वहां पर किसी भी काम को करने से पहले उनकी अनुमति लेनी पडती है उन्होंने उन्हें बताया कि इस क्षेत्र में राम बाबू गुर्जर और निर्भर गुर्जर का बोलबाला था  इसके बाद भी KK मोहम्मद डरे नही वे डाकुओ से मिले और उन्होंने डाकुओ को बताया कि इन मंदिरों को गुर्जर प्रतिहार राजाओ द्वारा बनाया गया था .

आपकी जानकारी के लिए बता दें गुर्जर सुमदाय के डाकू उस वंश के राजकुमार की तरह है इसके बाद डाकुओ ने भी मंदिर के जीर्णोद्धार को अपना कर्तव्य मानते हुए मदद करना शुरू कर दिया . आगे KK मोहम्मद बताते है कि उन मंदिरों के अंदर कोई मूर्ति नही थी जब उन्होंने यहाँ वहां देखा तो उन्हें नंदी के अवशेष दिखे जिसकी वजह से उन्हें पता चला कि ये शिव मंदिर था .

इसके बाद KK मोहम्मद ने स्वयं सेवक प्रमुख सुदर्शन ने तत्कालीन कांग्रेस सरकार से संपर्क किया और उन्हें इस मुद्दे पर हस्तक्षेप करने को कहा जिसके बाद केंद्र सरकार से उनको मदद मिली और उन्होंने मंदिरों को सुरक्षित कर दिया .

 

By: Thakur Mintu on Thursday, May 18th, 2017

Loading...