रेलवे का नया प्लान : ट्रेनों को लेट होने से बचाने के लिए रेलवे ने ढूंढ लिया ‘नया जुगाड़’ !

0
118

Sharing is caring!

ट्रेनों को लेट होने से बचाने के लिए रेलवे का नया जुगाड़, आइये जाने क्या है यह कदम !

ट्रेन लेट होने की वजह से यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ता है लेकिन रेल विभाग ने इस समस्या से निकलने के लिये इंतजाम कर लिया है . दरअसल ट्रेनों का लेट होना या रद्द हो जाना आम बात है लेकिन रद्द होने की वजह से करोड़ों लोग प्रभावित होते हैं और काफी वित्तीय नुकसान भी होता है . इसी को ध्यान में रखते हुए सरकार अहम कदम उठाने जा रही है .

Image Credit :

रेलगाड़ियों को लेकर आए दिन लोगों के निशाने पर रहने वाली रेलवे ने इस समस्या से निपटने के लिए नया जुगाड़ ढूंढा है . 12 जुलाई से रेलवे ने एक नए आदेश के तहत उत्तर रेलवे से चलने वाली लगभग 93 रेलगाड़ियों के समय में 15 मिनट से एक घंटे तक की वृद्धि कर दी है . दरअसल रेलवे में चल रहे संरक्षा तथा ढांचागत मरम्मत के कामों के चलते गाड़ियां समय से न ही चल पाती हैं और न ही समय से पहुंच पति है . ऐसी स्तिथि में रेल यात्री के लिए सबसे अधिक मुश्किल होती है .

इस समस्या पर बात करते हुए उत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी नितिन चौधरी ने बताया कि गाड़ियों के गंतव्य तक पहुंचने के समय को बढ़ाया गया है . उन्होंने आगे बताया कि नई व्यवस्था के तहत ट्रेनों के चलने के समय में सुधार होगा . रेलगाड़ियों को समय से चलाने के लिए उत्तर रेलवे के सभी मंडलों में विभिन्न स्टेशनों पर पहुंचने वाली गाड़ियों के समय में परिवर्तन किया गया है .

Image Credit :

बताया जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी तक पहुंचने वाली ट्रेनों के समय में सबसे अधिक परिवर्तन किया गया है . खबरों के अनुसार वाराणसी पहुंचने वाली 12 रेलगाड़ियों के समय में परिवर्तन किया गया है . वहीं लखनऊ पहुंचने वाली 6 गाड़ियों के समय में परिवर्तन किया गया है . इसमें गोमती एक्सप्रेस, वाराणसी इंटरसिटी और प्रयाग इंटरसिटी के समय को 45 मिनट के लिए बढ़ाया गया है .

Sharing is caring!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here