BJP संसदीय बोर्ड की बैठक को PM मोदी और अमित शाह ने किया संबोधित

0
42

Sharing is caring!

नईदिल्‍ली। कर्नाटक में भारतीय जनता पार्टी के सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरने को लेकर पार्टी में काफी उत्‍साह है। इसी संदर्भ में भारतीय जनता पार्टी के मुख्‍यालय में संसदीय बोर्ड की बैठक का आयोजन किया गया। इस आयोजन में प्रधानमंत्री मोदी और भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह सहित कई वरिष्‍ठ नेताओं ने भाग लिया।

अमित शाह ने इस दौरान संबोधित करते हुए कहा कि कर्नाटक की जनता को दिल से बधाई दी और इसके साथ ही इसे पार्टी की बड़ी जीत बताया है। उन्‍होंने कहा कि यह 15वां चुनाव था इनमें से भारतीय जनता पार्टी ने 14 में जीत दर्ज की है। उन्‍होंने इसे पार्टी की बड़ी उपलब्धि बताया है।
View image on Twitter<

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सभा को संबधित करते ही वाराणसी में हुई दुर्घटना का जिक्र किया। उन्होंने सीएम आदित्यनाथ से हुई बात का जिक्र करते हुए राहत और बचाव कार्य को बड़े स्तर पर जारी रखने का निर्देश दिया।

कर्नाटक चुनाव की बात करते हुए पीएम मोदी ने विपक्षी पार्टियों पर जमकर प्रहार किया। उन्होंने भाजपा को हिन्दी भाषी क्षेत्र की पार्टी बताने वालों पर कटाक्ष किया। उन्होंने कहा कि कर्नाटक का विजय अभूतपूर्व विजय है। पीएम मोदी ने इसके लिए कार्यकर्ताओं और प्रदेश की जनता का अभिवादन किया।

View image on Twitter

कर्नाटक जीत के साथ ही पश्चिम बंगाल को भी पीएम का संदेश

कर्नाटक में भाजपा की मिली जीत को ऐतिहासिक बताने के साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर जोरदार हमला बोला है। उन्होंने पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनाव के दौरान हुई हिंसा को लोकतंत्र की हत्या करार दिया है। साथ ही मोदी ने बहुमत से थोड़ी कम सीटें रहने के बावजूद कर्नाटक की जनता को राज्य के विकास में कंधे-से-कंधा मिलाकर काम करने का भरोसा भी दिया।

कर्नाटक चुनाव परिणाम के बाद पार्टी मुख्यालय में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि पश्चिम बंगाल के पंचायत चुनावों में जो कुछ हुआ, वह लोकतंत्र के लिए चिंता का विषय है। उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में बैलेट पेपर लूटे गए, मतदाताओं को वोट डालने से रोका गया। कई बैलेट बॉक्स तालाबों से निकल रहे हैं।

ऐसे कुछ मामले सामने आए हैं और कई सामने नहीं आ पाए हैं। उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल ने पूरी एक शताब्दी तक देश को दिशा देने का काम किया है। लेकिन ऐसे महान लोगों की धरती को राजनीतिक स्वार्थ के लिए लहूलुहान कर दिया गया। प्रधानमंत्री ने कहा कि लोकतंत्र में कौन जीतता है, कौन हारता है यह महत्वपूर्ण नहीं है। उन्होंने कहा कि न्यायापालिका और सिविल सोसाइटी सभी को पश्चिम बंगाल में लोकतंत्र केसीने पर लगे घाव को ठीक करने के लिए अपनी भूमिका अदा करनी ही होगी। ममता बनर्जी पर लोकतंत्र की हत्या का आरोप लगाते हुए प्रधानमंत्री ने भाजपा को पूरी तरह से लोकतांत्रिक तरीके से चलने वाली पार्टी बताया।

उन्होंने कहा कि भाजपा के हिंदी भाषी इलाके की पार्टी होने का दुष्प्रचार लंबे से किया जाता रहा है। लेकिन सच्चाई यह है कि गुजरात, महाराष्ट्र, असम समेत पूर्वोत्तर के सभी राज्यों में कोई भी हिंदी भाषी नहीं है, फिर भी वहां भाजपा की सरकार है। कर्नाटक की जनता ने भी इस दुष्प्रचार को खारिज कर दिया है। उन्होंने कहा कि भाजपा देश के हर क्षेत्र के लोगों के साथ मिलकर काम करने वाली पार्टी है और कर्नाटक की विकास यात्रा में कंधे से कंधे मिलाकर काम करेगी।

View image on Twitter

Sharing is caring!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here