जानिए आखिर 16 दिसंबर 2012 की रात दिल्ली की सड़कों पर क्या हुआ था, कौन थी निर्भया?

दिल्ली में 16 दिसंबर 2012 की रात को जो भी कुछ हुआ था उसने पूरी इंसानियत को शर्मसार कर दिया था.

चलती बस में इंसान की खाल में छिपे दरिंदों ने एक लड़की की आबरू को तार-तार कर उसे मौत की राह में तड़पता छोड़ दिया था.

दिल्ली के मुनीरका में 6 लोगों ने एक बस में पैरा मेडिकल की स्टूडेंट से सामूहिक दुष्कर्म का वहशी खेल खेला। घटना के बाद दरिंदों ने उसे दिल्ली की सड़कों पर मरने को छोड़ दिया था। ये एक ऐसा मामला था जिसने पूरे देश में क्रांति मचा दी थी, निर्भया तो उस घटना के बाद इस दुनिया में नहीं रही लेकिन उसके परिवार वालों उसे इंसाफ दिलाने की लड़ाई लड़ रहे हैं। पीड़ित के परिवार ने दोषियों की मौत की सजा बरकरार रखने की मांग की है.आज कोर्ट ने निर्भया को इंसाफ दिया है !

निर्भया की मां ने बताया कि वो इंसाफ की उम्मीद में 2012 से लेकर आज तक हर दिन टूटी हैं.उन्होंने कहा कि हर रोज अपने आप को तैयार करती हूं और मुझे इस दिन का बहुत बेसब्री से इंतजार था.

देखे उस रात का सच

By: hindutva Info Writer on Friday, May 5th, 2017