इन एंड्राइड अप्प्स से है भारतीय सेना को खतरा !!

एंड्राइड अप्प्स से है भारतीय सेना को खतरा !!

भारतीय जवान सियाचिन के साथ – साथ चीन बॉर्डर पर भी खड़े है जहाँ पर उन्हें मोबाइल अप्प्स से खतरा है हम ये नही कह रहे कि वो मोबाइल चलाते है , बल्कि खतरा इसलिए है क्यो की उनके मोबाइल में चीनी मोबाइल अप्प्स है  , एक रिसर्च के अनुसार इन अप्प्स की कुल संख्या 42 है । 

ग्रह मंत्री ने बताया कि चीनी डेवेलोपेर्स ने ऐसे अप्प्स बनाये है जिससे लोकेशन तथा अहम जानकारी प्राप्त करि जा सकती है इसलिए जवानों को आदेश दिया गया है कि वो ऐसी कोई भी चीनी अप्प डाउनलोड न करे ।

इनमे कई बड़े अप्प्स का नाम है जैसे की  Wechatt , Truecaller ,beauty plus , hi security और भी बहुत सारे अप्प्स है इस सूची में एक , आर्गेनाईजेशन के मुताबिक इन अप्प्स में स्पाई सॉफ्टवेयर होता है जो कि यूजर की डिटेल को एडमिन के साथ साझा करता है जो कि बहुत खतरनाक साबित हो सकता है ये सॉफ्टवेयर्स एक तरह से आपका पूरा मोबाइल ऑपरेट कर सकते है और आपको पता भी नी लगेगा , आम लोगों के लिए तो ये अप्प इतना खतरनाक नही है लेकिन हमारे जवानों के लिए ये मौत से कम नही है अगर सूत्रों की माने तो भारतीय सेना अपने कर्मचारियों के लिए स्पेशल अप्प बना रही है| फिलहाल तो हमारी कश्मीर की इंडियन आर्मी ने ५ आतंकवादियों को ढेर कर दिया  , LIC के मुताबिक हमारे जवानों को चीनी मोबाइल भी नही खरीदने चाहिए जैसे की शओमी क्यों की ये मोबाइल ब्रांड्स यूजर का डाटा  अपने सर्वर को भेजता है जो की चीन में है जिससे की हमारे जवानों की बात ट्रेस भी की जा सकती है |

कई एप्लीकेशन तो ऐसे भी है जिसको इनस्टॉल

कई एप्लीकेशन तो ऐसे भी है जिसको इनस्टॉल करते हि मोबाइल का जीपीएस चालू हो जाता है और सर्वर पर एक्साक्ट लोवातिओं भेज देता है फिलहाल तो इंडियन अस्र्मी को मोबाइल फ़ोन रखना allow  नही है ,  सिर्फ वायर लेस कोड जो की बसे कैंप पर होता है उसी का इस्तेमाल कर सकते है | टोटल अभी तक २०० आतंकवादियों का सफाया हो चूका है और आगे भी होता रहेगा | श्री नगर से करीब ४५ किलोमीटर की दूरी के उपर एक गाव है जिसमे सेना को शक था की यहाँ आतंकी छुपे हो सकते है  , वहां जाकर जब जवानों ने ढूंडा तोह उनका शक सही निकला वहां  पर ५ आतंकी थे , सेना ने उन्हें वही मार दिया जबकि हमारे एक जवान को चोट आई है , फिलहाल जवान अब स्वस्थ है