आखिरकार ताज को मंदिर बताने वाली याचिका सेशन कोर्ट में

जैसा हमने पहले भी अपने पुराने लेखों में दिखाया है कि कुछ लोग , तथ्य और घटनाएँ कहती हैं कि ताजमहल एक शिव मंदिर था और उस वक़्त के मुग़ल शासकों ने इसको अपनी बनायीं हुए इमारत समझकर पेश किया – अब इस बाबत दावा करने एक याचिका को शनिवार को अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायधीश आगरा को ट्रांसफर कर दी गई है .

Taj Mahal is a Hindu Temple

लेकिन हम ये भी बता देना चाहते हैं कि इससे पहले 15 जुलाई को आर्कियॉलजिकल सर्वे ऑफ इंडिया (एएसआई) ने याचिकाकर्ताओं के उस दावे को खारिज कर दिया था, जिसमें उन्होंने ताजमहल के एक शिव मंदिर होने की बात कही थी।

इस खबर को पूरी पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

By: Jindal on Monday, July 27th, 2015